राजस्थान के प्रमुख खनिज उद्योग







राजस्थान के प्रमुख खनिज व उनसे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी राजस्थान के खनिजों के बारे में विस्तार से जानकारी राजस्थान खनिज उत्पादन से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी राजस्थान खनिज उत्पादन व उनके उपयोग से लेकर संबंधित संपूर्ण जानकारी



Rajasthan gk, rajasthan gk in hindi, rajasthan Geography,

राजस्थान के प्रमुख खनिज व उत्पादन क्षेत्र




    लौहा अयस्क IRON ORE



प्राप्ति स्थान =  जयपुर - मोरीजा बानोला क्षेत्र दौसा - नीमला रायसेन क्षेत्र झुंझुनू - डाबला सिंघाना नीमकाथाना सीकर - उदयपुर - नाथरा की पोल थुर  हुण्डेर व भीलवाड़ा से प्राप्त होता है

मुख्य अयस्क-  मैग्नेटाइट हेमेटाइट लिमो नाइट लैटेराइट राजस्थान राज्य में मुख्य हेमेटाइट लिमोनाइट किस्म का लोहा प्राप्त होता है हेमेटाइट उच्च किस्म का लोहा अयस्क  है

 विश्व में लोहा अयस्क के सर्वाधिक भंडार
 1 ऑस्ट्रेलिया 2 रूस 3 ब्राजील




     सीसा-जस्ता  LEAD ZINC


जस्ते के अयस्क- कैलेमीन जिंकाइट विलेमाइट
सीसे के अयस्क-  गैलेना  पाइरोटाइट

सीसा व जस्ता सामान्यतः चांदी के साथ मिलता है राजस्थान में सीसा जस्ता के प्रमुख भंडार उदयपुर राजसमंद भीलवाड़ा से सवाई माधोपुर में है

राज्य में सीसा जस्ता में देश की कुल भंडारों के लगभग 89% भंडार द्वितीय स्थान आंध्र प्रदेश का है

सीसा जस्ता के उत्पादन में राजस्थान राज्य का एकाधिकार है
राजस्थान में जिंक निकालने का कार्य हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड द्वारा किया जाता है
हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड भारत की सबसे बड़ी जिंक खनन करने वाली कंपनी है

विश्व की सबसे बड़ी सीसे व जस्ते की सिंगल ओपन कास्ट कौन है रामपुरा आगुचा खान ( भीलवाड़ा )

विश्व में सीसे के सर्वाधिक भंडार ऑस्ट्रेलिया चीन व रूस में पाए जाते हैं
 विश्व में सीसी में जस्ते का सबसे बड़ा उत्पादक उपभोक्ता देश चीन है




      चांदी SILVER




चांदी विद्युत की सर्वोत्तम सुचालक होती है
चांदी के भंडार में उत्पादन की दृष्टि से भारत में राजस्थान प्रथम स्थान पर है
भारत विश्व में चांदी का सबसे बड़ा उत्पादक व आयातक देश है

चांदी का सर्वाधिक उत्पादन मैक्सिको को पेरु व चीन में होता है





        तांबा COPPER



तांबा प्राप्ति स्थान - खेतड़ी सिंघाना क्षेत्र झुंझुनू , खो दरीबा क्षेत्र व भगोनी अलवर , देलवाड़ा किरोवली सिरोही, अंजनी सूलम्बर उदयपुर, रेलमगरा राजसमंद, रघुनाथपुरा सीकर, बीदासर चूरू, देव तलाई पूर्व दरीबा भीलवाडा


तांबा आग्नेय  अवसादी कायांतरित चट्टानों में प्राप्त होता है
झुंझुनू को राजस्थान में तांबा जिला कहा जाता है
तांबा बहुत लचीला एवं विद्युत का उत्तम सुचालक होने के कारण  विद्युत उपकरणों में अत्यधिक उपयोगी है

भंडारों की दृष्टि से राजस्थान प्रथम स्थान पर है जबकि उत्पादन की दृष्टि से द्वितीय स्थान पर है




      टंगस्टन TUNGSTEN



प्राप्ति स्थान नागौर डेगाना , पाली नाना कराब , सिरोही आबू रेवदर बाल्दा क्षेत्र
 यह अधिक लचीला भूगर्भ उच्च गलनांक 3422 डिग्री सेल्सियस वाली धातुएं मुख्यतः विद्युत बल्बों में प्रयुक्त किया जाता है
 भारत में राजस्थान टंगस्टन का मुख्य उत्पादक राज्य है लेकिन अभी उत्पादन बंद है
 विश्व में टंगस्टन का सर्वाधिक भंडार  1 चीन 2 कनाडा 3 व रूस
भारत में टंगस्टन के सर्वाधिक भंडार 1 कर्नाटक 2 राजस्थान 3 आन्र्ध प्रदेश




    मैंगनीज  MANGANESE ORE



प्राप्ति स्थान बांसवाड़ा लिलवाना तलवाड़ा तामेसरा कासला लोहारिया ,देबारी उदयपुर ,नाथद्वारा  राजसमंद ,

मैग्नीज का प्रयोग इस्पात निर्माण रासायनिक उद्योग व सूखे सेल में प्रयुक्त किया जाता है
राजस्थान में सर्वाधिक भंडार बांसवाड़ा में
भारत में मैगजीन का सर्वाधिक उत्पादन मध्य प्रदेश में होता है
देश में मैगनीज अयस्क  की सबसे बड़ी उत्पादक कंपनी मैग्नीज और  इंडिया लिमिटेड (MOIL)



  वोलेस्टोरनाइट WOLLASTONITE



प्राप्ति स्थल - बेल का भकरा सिरोही,  उदयपुर पाली  ( रुपनगढ़ अजमेर ) डूंगरपुर
 देश में वोलेस्टरलाइट के सर्वाधिक भंडार राजस्थान में है द्वितीय स्थान गुजरात का है

वोलेस्टोरनाइट का लगभग समस्त उत्पादन में राजस्थान से ही प्राप्त किया जाता है
विश्व स्तर पर वोलेस्टोरनाइट के सर्वाधिक भंडार चीन में पाए जाते हैं इसका सर्वाधिक उत्पादन भी चीन मे ही होता है



 राकॅ- फॉस्फेट ROCK PHOSPHATE



प्राप्ति स्थल=  उदयपुर- झामर कोटडा, मांटोन कानपुरा , जैसलमेर- बिरमानीया व लाठी क्षेत्र  , व सीकर बांसवाड़ा भी के उत्पादक है

रॉक फास्फेट एक उर्वरक खनिज है रासायनिक खाद के निर्माण तथा लवणीय भूमि के उपचार में इसका उपयोग किया जाता है
 राजस्थान में उदयपुर में जावर कोटडा की खान से RSMML  द्वारा रॉक फॉस्फेट निकाला जाता है
रॉक फास्फेट के उत्पादन में देश में राजस्थान का प्रथम व मध्यप्रदेश का द्वितीय स्थान है



       जिप्सम GYPSUM



प्राप्ति स्थान नागौर भदवासी फलसूंड मरदाना गोठ मांगलोद फिलनवाशिंग बीकानेर मिश्रा सर जामसर कायमवाला डेर, बाड़मेर के उत्तरलाई व कवास क्षेत्र

जिप्सम का अन्य नाम हरशौट है यह एक परदार खनिज है
देश में राजस्थान में जिप्सम के सर्वाधिक भंडार 82 % है अतः सर्वाधिक उत्पादन  99% भी यही होता है
राजस्थान में जिप्सम उत्पादन सर्वाधिक  बीकानेर जैसलमेर व गंगानगर  में होता है



        एस्बेस्टास ASBESTOS



प्राप्ति स्थल उदयपुर में ऋषभदेव खेरवाड़ा सुलम्बर  अन्य क्षेत्र राजसमंद डूंगरपुर भीलवाड़ा अजमेर व पाली

एस्बेस्टास का उपयोग सीमेंट की चादर पाइप पर भवन निर्माण सामग्री व रासायनिक उद्योगों में प्रयुक्त होता है

एस्बेस्टास रेशेदार सिलीकेट खनिज है यह अग्नि में विद्युत का कुचालक होता है

एस्बेस्टास के विश्व में सर्वाधिक भंडार चीन कजाकिस्तान में रूस
सर्वाधिक उत्पादन रूस




      फेल्सपार FELSPAR



प्राप्ति स्थल = अजमेर , भीलवाड़ा ,पाली अलवर

 सिरेमिक उद्योग कांच उद्योग में टाइल अपकर्ष में प्रयुक्त किया जाता है
 राजस्थान फेल्सपार का 59% उत्पादन के साथ अग्रणी उत्पादक राज्य है इसके साथ ही आंध्र प्रदेश का द्वितीय स्थान है
फेल्सपार की Gem Variety को Moon Stone कहते हैं
देश में फेल्सपार के सर्वाधिक भंडार राजस्थान में आंध्र प्रदेश में पाए जाते हैं



      फ्लोराइड FLOURSPAR


उत्पादक स्थान = मांडो की पाल डूंगरपुर, जालौर , सीकर , सिरोही
फ्लोराइड सीमेंट एसिड लोहा व इस्पात उद्योगों में प्रयोग किया जाता है इसका बैंगनी रंग सर्वाधिक लोकप्रिय है
फेल्सपार के भंडार में देश में प्रथम स्थान पर गुजरात में द्वितीय स्थान पर राजस्थान है



       अभ्रक MICA



उत्पादक स्थल भीलवाड़ा अजमेर राजसमंद व टोंक
आग्नेय व कायांतरित चट्टानों से  प्राप्त किया जाता है  अभ्रक पूर्ण के ताप विद्युत विभव निरोधक होता है मुख्य थे इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण तथा बेटियों में सजावटी सामान बनाने व सुरक्षा उपकरण में प्रयुक्त किया जाता है
अभ्रक निर्माण उद्योग कारखाना भीलवाड़ा में केंद्रित है
विश्व में चीन में अभ्रक का सर्वाधिक उत्पादन होता है लेकिन सर्वाधिक भंडार भारत में स्थित है



        संगमरमर MARBLE



किशनगढ़ देश की प्रसिद्ध मार्बल मंडी है राजस्थान में किशनगढ़ में सर्वाधिक मार्बल यूनिट है यह अजमेर में स्थित है
संगमरमर प्रमुख इमारती पत्थर है यह लघु खनिज किस श्रेणी में आता है
राजस्थान में विभिन्न प्रकार की मार्बल की किस्में में पाई जाती हैं


 मार्बल की किस्म       राजस्थान में प्राप्ति स्थान

1  सफेद मार्बल               मकराना नागौर

 2  सफेद व सलेटी           मोरवड राजसमंद

 3 हरा मार्बल     ऋषभदेव केसरियाजी व गोगुंदा उदयपुर

 4  पिंक मार्बल                उदयपुर

 5   पिस्ता मार्बल             जयपुर में अलवर

 6  गहरा काला                 मार्बल भैंसलाना

  7 पीला मार्बल                 जैसलमेर

  8  बैंगनी मार्बल                बांसवाड़ा

  9  नीला मार्बल                  पाली

  10 भूरा हरा व सुनहरा मार्बल    चूरू



           ग्रेनाइट



प्राप्ति स्थान जालौर पाली सिरोही बाड़मेर अजमेर जैसलमेर झुंझुनू जोधपुर
उत्तरी भारत में राजस्थान एक मात्र ऐसा राज्य जहां विभिन्न रंगो व  डिजाइन में ग्रेनाइट की विशाल भंडार है ग्रेनाइट लघु खनिज ग्रेनाइट के सर्वाधिक भंडार  कर्नाटक और राजस्थान में पाए जाते हैं


कृपया पोस्ट शेयर करें